Ticker

6/recent/ticker-posts

Phishing क्या है फिशिंग अटैक से कैसे बचे

दोस्तों आज हम आपको बोहोत इम्पोर्टेन्ट बात बताने वाले है।  जो आपके लिए बोहोत काम की  सकती है। आज हम आपको Phishing के बारे  में बताने वाले है। Phishing अटैक क्या है और इससे कैसे बचे इसके बारे में आज हम बात करने वाले है। एक रिपोर्ट में सामने आया है की कुछ देश ऐसे है की जिनमे Phishing Attack बोहोत ज्यादा हो रहे है।  इस अटैक के मामले में भारत ३ नंबर पर है।  सबसे पहले नंबर पर USA है और दूसरे नंबर पर Russia. phishing अटैक क्या होता है और इस अटैक से कैसे बचना चाहिए तो चलिए जानते है इसके बारे में। 

Phishing क्या है फिशिंग अटैक से कैसे बचे

Phishing क्या है 

Phishing का नाम पढ़कर आपको ये तो समझ में आही गया होगा की ये मछली के जाल के जैसा कुछ है।  मछली के जाल को इंग्लिश में fishing कहते है। इस Fishing से F निकला जाये और उसके जगह ph लगाए तो इसका मतलब ऑनलाइन जाल डालना होता है।  जैसे मछली पकड़ने के लिए जाल बिछाया जाता है।  वैसे ही ये ऑनलाइन जाल बिछाया जाता। है Phishing का मतलब होता है हैक करना। इस Phishing में भी हैकर चारा फेंककर मछली पकड़ते है लेकिन ये मछली कोई यूजर या उपभोक्ता होता है.

यहां पर होता क्या है कि जो अटैकर्स होते हैं वह कोई चारा फेंकते हैं वो चारा कैसा होता है जैसे मान लीजिये आपके पास कोई ईमेल आता है जो ईमेल आपको भेजा है वह ऐसा लगता है कि वह आपको किसी ट्रस्टेड कंपनी जैसे गूगल, फेसबुक, ट्विटर या आपके बैंक ने भेजा है. इस ईमेल का डिजाइन आपको आकर्षित करने वाला होता है. इसे ईमेल को देखकर आपको ऐसा लगता है कि ये आपके काम का ईमेल है और मजबूरन उस ईमेल पर एक्शन लेने लग जाते हैं.

इन ईमेल पर कुछ ऐसा लिखा होता है जो आपको आकर्षित कर लेता है जैसे ईमेल पर लिखा है कि आपको कोई नया ऑफर मिला है, सिक्यूरिटी अपडेट की गयी है आपको फिर से लॉग इन करना पड़ेगा, कंपनी ने आपके अकाउंट पर कोई अनैतिक एक्टिविटी नोटिस की है या फिर ये भी लिखा हो सकता है कि आप इस लिंक पर क्लिक करके लॉग इन करिए आपको फिर से वेरीफाई किया जा रहा है.

तो ऐसा कुछ ईमेल आने के बाद कोई भी नार्मल यूजर करता क्या है वो इन ईमेल को सीरियसली ले लेता है और ईमेल पर दिए लिंक पर क्लिक करने के बाद वह फेक या नकली वेबसाइट पर पहुँच जाता है इसके बाद वह उस फेक वेबसाइट पर लॉग इन करने की कोशिश करता है यहां पर वह लॉग इन तो नहीं होता लेकिन जो आपने यूजरनेम और पासवर्ड डाला था वह अटैकर्स या हैकर्स के पास पहुँच जाता है. इस तरह कोई भी यूजर Phishing Attack का शिकार हो जाता है.

Phishing से कैसे बचे 

Phishing क्या है ये तो आप जान गए होंगे अब आपको बताते है कि Phising Attack से कैसे बचना है तो अगर आप किसी भी तरह से इसका शिकार नहीं होना चाहते हैं तो आपको नीचे बताई गयी कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना है तो चलिए जानते हैं.इससे बचने का सबसे सरल तरीका ये है कि आपको किसी भी अनजाने लिंक पर क्लिक नहीं करना है. आप अपने ईमेल बॉक्स में ईमेल आने से नहीं रोक सकते हैं लेकिन आप अनजाने लिंक पर क्लिक करने से खुद को रोक सकते हैं.

आपके किसी भी तरह के यूजरनाम और पासवर्ड में आपकी गोपनीय जानकारी होती है इसे आपको किसी के अनुरोध करने पर भी नहीं बतानी चाहिए क्योंकि इन यूजरनाम और पासवर्ड में आपकी कई महत्वपूर्ण जानकारी होती हैं.जब भी आप किसी वेबसाइट में जाए तो आपको एक बार उसके URL को जरुर चेक कर लेना चाहिए क्योंकि कई बार फेक या कॉपी वेबसाइट की स्पेलिंग गलत या अजीब सी होती हैं तो इन सभी बातों का ध्यान रख के आप Phishing से बच सकते हैं.

तो दोस्तों देखा आपने ये Phishing अटैक कितना खतरनाक  हो सकता है।  इससे बचने का तरीका भी हमने आपको बताया है।  हैक करने का तरीका आज भी  हमारे देश में चलता है। हैकिंग और फिशिंग अटैक एक अपराध है फिर भी लोग इसका इस्तेमाल करते है।  इसका इस्तेमाल आपकी पर्सनल इनफार्मेशन निकालने के लिए भी किया  है।  या फिर आपका क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग , आपका OTP , यूजर नेम और पासवर्ड के लिए भी  सकता है। ये जानकारी आपके लिए काफी जरुरी और उपयोगी है। अगर आपका कोई सवाल हो तो कमेंट बॉक्स में आप पूछ सकते है। धन्यवाद् 

Post a Comment

0 Comments